Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics: ये रिश्ता क्या कहलाता है भजन लिरिक्स

By: admin

July 12, 2023

2 minutes read

...

इस Article में आपको Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics, ये रिश्ता क्या कहलाता है भजन लिरिक्स का हिंदी और English LYRICS दिया गया है और उम्मीद करता हूँ कि यह Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics, ये रिश्ता क्या कहलाता है भजन लिरिक्स आपके लिए जरूर helpful साबित होगा |

ये रिश्ता क्या कहलाता है भजन लिरिक्स

Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics In Hindi

यहाँ – ये रिश्ता क्या कहलाता है भजन लिरिक्स, Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics दिया गया है

भजन​​ – ये रिश्ता क्या कहलाता है भजन लिरिक्स

शब्द नहीं जो बोल सकूँ,

ये रिश्ता क्या कहलाता है,

मैं तो इतना जानू मेरा,

श्याम से गहरा नाता है,

शब्द नहीं जो बोल सकूँ,

ये रिश्ता क्या कहलाता हैं।।

ये मुझे जाने ये पहचाने,

क्या हूं मैं और कैसा हूं,

श्याम के मन को जो भाता है,

मैं तो बिलकुल वैसा हूँ,

इसीलिए तो,,

इसीलिए तो मुझपर अपना।

जमकर प्यार लुटाता है,

शब्द नहीं जो बोल सकूँ,

ये रिश्ता क्या कहलाता हैं।।

कितना मेरा ख्याल ये रखता,

आई आफत टाल रहा,

छोटे बच्चो के जैसे ही,

मुझको श्याम सम्भाल रहा,

कभी कभी,,

कभी कभी चुपके से मुझको,

देख देख मुस्काता है,

शब्द नहीं जो बोल सकूँ,

ये रिश्ता क्या कहलाता हैं।।

अपना सब कुछ सौंप दिया है,

मैने श्याम के हाथों में,

दिल मेरा गद गद हो जाता,

श्याम प्रभु की बातों में,

श्याम ही मेरा,,

श्याम ही मेरा इष्टदेव है,

श्याम ही भाग्य विधाता है,

शब्द नहीं जो बोल सकूँ,

ये रिश्ता क्या कहलाता हैं।।

तार से तार जुड़े है दिल के,

गर्व से कहता है ‘बिन्नू’

श्याम प्रभु की छत्र छाया में,

मैं तो हर पल रहता हूँ,

भर भर प्याला,,

भर भर प्याला श्याम सुधा का,

मुझको श्याम पिलाता है,

शब्द नहीं जो बोल सकूँ,

ये रिश्ता क्या कहलाता हैं।।

शब्द नहीं जो बोल सकूँ,

ये रिश्ता क्या कहलाता है,

मैं तो इतना जानू मेरा,

श्याम से गहरा नाता है,

शब्द नहीं जो बोल सकूँ,

ये रिश्ता क्या कहलाता हैं।।

Khatu Shyam Ji

Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics

Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics In English

In this article, you are also being given the Hindi and English Lyrics of Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics In English and I hope that Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics will prove to be helpful for you.

Bhajan​​ – Yeh Rishta Kya Kehlata Hai Bhajan Lyrics

Shabd nahin jo bol sakun,

Ye rishta kya kahalata hai,

Main to itna janu mera,

Shyam se gehra nata hai,

Shabd nahin jo bol sakun,

Ye rishta kya kahalata hai.

Ye mujhe jane ye pehchane,

Kya hoon main aur kaisa hoon,

Shyam ke man ko jo bhatata hai,

Main to bilkul vaisa hoon,

Isiliye to,

Isiliye to mujhpar apna.

Jamkar pyar lutata hai,

Shabd nahin jo bol sakun,

Ye rishta kya kahalata hai.

Kitna mera khayal ye rakhata,

Aai aafat tal raha,

Chhote bachho ke jaise hi,

Mujhko Shyam sambhal raha,

Kabhi kabhi,

Kabhi kabhi chupke se mujhko,

Dekh dekh muskurata hai,

Shabd nahin jo bol sakun,

Ye rishta kya kahalata hai.

Apna sab kuch saump diya hai,

Maine Shyam ke hathon mein,

Dil mera gadgad ho jata,

Shyam Prabhu ki baton mein,

Shyam hi mera,

Shyam hi mera ishtadev hai,

Shyam hi bhagya vidhata hai,

Shabd nahin jo bol sakun,

Ye rishta kya kahalata hai.

Tar se tar jude hain dil ke,

Garv se kehta hai ‘Binnu’,

Shyam Prabhu ki chhatra chhaya mein,

Main to har pal rehta hoon,

Bhar bhar pyala,

Bhar bhar pyala Shyam sudha ka,

Mujhko Shyam pilata hai,

Shabd nahin jo bol sakun,

Ye rishta kya kahalata hai.

Shabd nahin jo bol sakun,

Ye rishta kya kahalata hai,

Main to itna janu mera,

Shyam se gehra nata hai,

Shabd nahin jo bol sakun,

Ye rishta kya kahalata hai.

Related to Read

Shyam Baba Ki Aarti

Shyam Chalisa Lyrics

Shyam Stuti Lyrics

Khatu Shyam Ji Mandir Timing

Chulkana Dham

Shyam Baba Ki Shayari

Khatu Shyam Ji Daily Darshan